Search More

poems> Bewafai

तुम्हारी शिकायत

वो मोहब्बत भी तेरी थी,
वो शिकायत भी तेरी थी,
अगर कूछ बेवफ़ाई थी,
तो वो बेवफ़ाइ भी तेरी थी,
हम छोड़ गये तेरा शहर,
तो वो हिदायत भी तेरी थी,
आखिर करते तो किससे करते
तुम्हारी शिकायत,
"सनम"
वो शहर भी तेरा था,
अदालत भी तेरी थी...

Latest poems

poems in Hindi