Search More

poems > Good Morning

उसे याद कर के न

उसे याद कर के न दिल दुखा 
जो गुज़र गया वो गुज़र गया 
कहाँ लौट कर कोई आएगा 
जो गुज़र गया वो गुज़र गया 

नई सुबह है , नई शाम है 
नया शहर है नया नाम है 
जो चला गया उसे भूल जा
जो गुज़र गया वो गुज़र गया 

मुझे पतझड़ की कहानियां 
न सुना सुना के उदास कर 
नए हादसों का पता बता 
जो गुज़र गया वो गुज़र गया 

शुभ प्रभात

Latest poems