Search More

poems > Good Night

आपकी दोस्ती की रोशनी ऐसी

आपकी दोस्ती की रोशनी ऐसी है,हर तरह उजाला ही नजर आया है।सोचता ह घर की बिजली कटवा दूं,और आपकों दीवार पर लटका दूं। good night

Latest poems