Search More

jokes > Lovers

प्रेमीः आखिर तुम्हारे अंदर क्या

प्रेमीः आखिर तुम्हारे अंदर क्या है? 
प्रेमिकाः मैं अभिमान से पीडत ह। दर्पण के सामने घंटों अपनी सुंदरता को निहारा करती ह ।
प्रेमीः इसे अभिमान नही, कल्पना कहते है।

Latest jokes