Search More

poems > Naughty

आज नया कुछ लिख नहीं

आज नया कुछ लिख नहीं पाया इसलिए ये तुकबंदी भेज रहा हूँ.......

धोखा मिला जब प्यार में..............................

ज़िन्दगी में उदासी छा गयी............................

सोचा था छोड़ देंगे इस ज़िन्दगी को.......................







कमबक्थ तभी मोहल्ले में दूसरी आ गयी !!!!!!!!!!!

Latest poems