Search More

poems> Orkut Scrap Message

सांसो का पिंजरा किसी दिन

सांसो का पिंजरा किसी दिन टूट जायेगा 
फिर मुसाफिर किसी राह में छूट जायेगा 
अभी साथ है तो बात कर लिया करो 
क्या पता कब साथ छूट जायेगा

क़यामत तक तुझे याद करेंगे
तेरी हर बात पर एतरार करेंगे 
तुम्हे SCARPS करने को तो नहीं कहेंगे 
फिर भी तुम्हारे SCARPS का इन्तजार करेंगे

रेत की जरूरत रेगिस्तान को होती है,
सितारों की जरूरत आसमान को होती है,
आप हमें भूल न जाना, क्योंकी 
दोस्त की जरूरत हर इंसान को होती है

Latest poems